लखीमपुर कांड(अपडेट): 12घंटे लम्बी पूछताछ के बाद मुख्य आरोपी अरेस्ट.. पुलिस का बयान, जांच में नहीं किया सहयोग

ख़बर शेयर करें

UP : उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी हिंसा कांड में मुख्य आरोपी और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है. करीब 12 घंटे तक आशीष मिश्रा से एसआईटी की टीम ने पूछताछ की. गहन सवाल जवाब के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने कहा कि आशीष मिश्रा जांच में सहयोग नहीं कर रहा है. उसने कई सवालों के जवाब नहीं दिए।

Ad - Bansal Jewellers

बताते चलें शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के दफ्तर में पेश हुए थे. एसआईटी ने आशीष मिश्रा से तीन दर्जन से ज्यादा सवाल पूछे. यूपी पुलिस की डीआईजी उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आशीष मिश्रा ने कई सवालों के जवाब नहीं दिए. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग : सहारनपुर में बीजेपी की रैली में जा रही बस और कार की भिड़त, दंपत्ति और बेटी की मौत, दो गंभीर

बेहद लम्बी पूछताछ के दौरान मारे गए ड्राइवर की तस्वीर अहम सबूत बनी. पुलिस सूत्रों के मुताबिक पोस्टमार्टम के दौरान हरिओम पीले रंग की धारीदार शर्ट पहने था, जबकि आशीष मिश्रा की ओर से हरिओम को थार जीप का ड्राईवर बताया गया था. दरअसल वायरल वीडियो और फोटो में थार जीप का ड्राइवर सफेद शर्ट में देखा जा सकता है।

यह भी पढ़ें 👉  BIG NEWS (दुःखद) : वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का हुआ निधन..

यहां आपको बताते चलें कि घटना के दिन आशीष मिश्रा उर्फ मोनू सफेद शर्ट में था. गिरफ्तार आरोपियों में से भी एक ने थार जीप में मोनू के होने का जिक्र किया है. आरोपी ने बताया था कि घटना के तुरंत बाद मोनू की राइस मिल में गए थे. थार जीप से मिले 315 बोर के मिस कारतूसों की जांच जारी है. आशीष मिश्रा के 315 बोर के लाइसेंसी असलहे की कारतूस होने का शक है. एसआईटी ने शासन से फॉरेंसिक टीम की मांग की है.

Elinterio Web AD
kulsum-mall-ad
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments