भैया दूज पर जा रहे थे ससुराल..खुशियाँ बदली मातम में ..पति,पत्नी की मौत..

ख़बर शेयर करें

अल्मोड़ा 17.November 2020 GKM NEWS दन्या/अल्मोड़ा में एक दर्दनाक हादसा हो गया जिसमे पति-पत्नी की मौत हो गई..खुशिया मातम में बदल गई.. यहां सिमलखेत से भैसाड़ी गांव (धौलादवी) जा रही मारूती 800 कार ध्याड़ी—भनौली मोटर मार्ग में लगभग 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में पति की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पत्नी ने आज सुबह जिला अस्पताल अल्मोड़ा में दम तोड़ दिया। मृतक अपनी निजि कार से भइया दूज पर अपने ससुराल आया था, लौटते वक्त यह दर्दनाक हादसा हो गया।

Ad - Bansal Jewellers


जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि अल्मोड़ा के भैसोड़ी निवासी जीवन सिंह पुत्र बची सिंह (35 साल) निवासी भैसाड़ी अपनी पत्नी गीता देवी (31 साल) के साथ अपनी मारूति 800 कार से अपने ससुराल सिमलखेत आया था। सुबह त्योहार मनाकर पति—पत्नी वापस कार से लौट रहे थे। देर शाम उनकी कार ध्याड़ी—भनौली मोटर मार्ग में एक मोड़ के पास अनियंत्रित होकर लगभग 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। इस बीच मामले की सूचना पुलिस को दी गई। दन्या थाने में लगभग 9.30 बजे सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष संतोष देवरानी पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पहुंच गये।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड (खौफ़नाक):यहां आसमानी आफत क़हर बन कर टूटी, कई वाहन मलबे में दबे..

जहां रेस्क्यू कर गम्भीर रूप से घायल गीता देवी को लहुलुहान हालत में सड़क तक लाया गया और उसे स्थानीय अस्पताल दिखाने के बाद अल्मोड़ा 108 से रेफर कर लिया गया। इस अभियान में दन्या थाने से 2 एसआई और 7 सिपाही जुटे। देर रात का वक्त, घुप्प अंधेरा और गहरी खाई होने के कारण बचाव अभियान में काफी दिक्कत आई। अल्मोड़ा से एनडीआरएफ की टीम घंटों तक वहीं जमी रही। जीवन सिंह के शव को बामुश्किल बाहर निकाल लिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  भयावह.. बुराड़ी कांड जैसा मामला.. यहां परिवार के पांच लोगों ने लगाई फांसी, 9 माह का मासूम भी शामिल..

इधर आज सुबह जिला अस्पताल में घायल महिला गीता देवी की भी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि मृतक पेशे से ट्रक चालक था। उसके दो मासूम बच्चे एक चार साल का तथा दूसरा एक साल का है। इस घटना का सबसे दु:खद पहलू तो यह है कि जहां त्योहार मनाकर लौट रहे पति—​पत्नी की दर्दनाक मौत हो गई है, वहीं दो मासूम बच्चों के सिर से माता—पिता का साया उठ गया है। संयोग से दोनों बच्चों को पति—पत्नी घर ही छोड़ गये थे, जिससे असमय काल का ग्रास बनने से यह मासूम बच गये।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : यहाँ फेसबुक का प्यार पड़ा भारी.. रीति-रिवाजों के साथ हुई शादी..फिर दुल्हन ही लूट ले गई पति के घर का सारा खजाना और सुख चैन...
Elinterio Web AD
kulsum-mall-ad
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 Join our WhatsApp Group

👉 Subscribe our YouTube Channel

👉 Like our Facebook Page

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments